सिवनी, 16 फरवरी । जिले के बरघाट थाना क्षेत्र अंतर्गत शासकीय भूमि पर ढाबा एवं गैरेज व अरी थाना अंतर्गत ग्राम गंगेरुआ में शासकीय भूमि पर अवैध निर्माण को ध्वस्त कर सिवनी पुलिस ने शासकीय भूमि को कब्जे से मुक्त कराया है।


सिवनी पुलिस के मीडिया अधिकारी आशिष खोब्रागडे ने मंगलवार की शाम को जानकारी देते हुए बताया कि बंटी उर्फ सुरेश बोपचे ढाबा संचालक, नेमीचंद चैहान गैराज संचालक दोनो निवासी ग्राम कौड़िया बरघाट द्वारा 1.5 एकड शासकीय भूमि (कीमती 70 लाख) पर अवैध कब्जा कर ढाबा व गैराज का संचालन किया जा रहा था जिस पर मंगलवार को पुलिस और राजस्व के संयुक्त दल ने कार्यवाही करते हुए अवैध कब्जे को ध्वस्त करते हुए शासकीय भूमि को अतिक्रमण से मुक्त करवाया है।


आगे बताया कि इसी प्रकार थाना अरी अंतर्गत दुर्गेश पवार, संतोष, अशोक मरार व मुनेन्द्र कावरे निवासी गंगेरुआ अरी द्वारा 2400 वर्ग फिट शासकीय भूमि (कीमती 12 लाख रूपये) पर अवैध कब्जा किया गया था जिसे भी पुलिस और राजस्व के संयुक्त दल ने कार्यवाही करते हुए अवैध कब्जे को ध्वस्त करते हुए शासकीय भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराया है।
इस कार्यवाही में पुलिस एवं राजस्व के संयुक्त अमले का योगदान रहा।
हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!