पाकिस्तान क्रिकेट के खराब प्रदर्शन का होगा बड़ा असर, पीसीबी में बदलाव तय

लाहौर । विश्वकप में इस बार पाकिस्तान क्रिकेट के खराब प्रदर्शन को देखते हुए अब बड़े बदलाव की उम्मीदें जतायी जा रही हैं। मुख्य चयनकर्ता इंजमाम उल हक ने पहले ही इस्तीफा दे दिया है। टीम के खराब प्रदर्शन की गाज अब पाक क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) प्रमुख जका अशरफ पर पड़ने की संभावना है।

पिछले कुछ समय से कप्तान बाबर आजम के संदेशों को लीक करने के बाद से ही वह आलोचकों के निशाने पर हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि उन्हें पद से हटाया जा सकता है। वहीं पूर्व पाकिस्तान कप्तान शाहिद अफरीदी के पाकिस्तान के कार्यवाहक प्रधानमंत्री अनवर अल हक से मुलाकात के भी मायने निकाले जा रहे हैं।

ऐसे में संभव है कि पीसीबी में फिर बदलाव किया जाये क्योंकि अनवर ने अफरीदी को देश के खेल के मामलों में शामिल सक्रिय रूप से शामिल होने का अनुरोध किया है। इन दोनों ने क्रिकेट के कई पहलुओं पर चर्चा की है। ये मुलाकात ऐसे समय में हुई है, जब पाकिस्तानी टीम लगातार चार मैच हारकर विश्व कप सेमीफाइनल से बाहर होने की दौड़ में है।

वैसे भी पांच नवंबर को अशरफ का कार्यकाल समाप्त हो रहा है। उनके कार्यकाल का आगे बढ़ाये जाने की संभावना कम ही है। पाकिस्तान क्रिकेट के लिए पिछले कुछ महीने अच्छे नहीं रहे थे। अशरफ के अलावा इस साल तीन लोग पीसीबी की अध्यक्षता कर चुके हैं। जका के कार्यकाल की समाप्ति के बाद चौथा चेयरमैन नियुक्त होगा। ये पाकिस्तान के अगले चुनाव और नए प्रधानमंत्री के बनने तक रहेगा। उसके बाद प्रधानमंत्री नया अध्यक्ष नियुक्त करेंगे। द्वारा नया चेहरा नॉमिनेट करने तक पद पर रहेगा

follow hindusthan samvad on :

You may have missed