भोपाल, 26 फरवरी। परी बाजार के माध्यम से हुनरमंद महिलाओं को उनके द्वारा निर्मित हैंड क्राफ्ट और अन्य सामग्रियों के प्रदर्शन एवं विक्रय का अवसर मिलेगा। महिला सशक्तिकरण की दिशा में यह अच्छा कदम है। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने यह बात कमला पार्क में परी बाजार का शुभारंभ करते हुए कही। परी बाजार 3 दिन लगेगा। यहां साहित्यिक और सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे।

मंत्री श्री सिंह ने कहा कि स्व-सहायता समूह के माध्यम से महिलाओं को स्व-रोजगार के लिए 1100 करोड़ रुपए की राशि दी गई है। उन्होंने कहा कि माताओं-बहनों के पास हुनर तो है लेकिन उनको अवसर नहीं मिलता। इस तरह के आयोजनों से उन्हें स्व-निर्मित उत्पादों को लोगों के सामने लाने का अवसर मिलता है। श्री सिंह ने कहा कि परी बाजार के 145 वर्ष पुराने कांसेप्ट को पुनर्जीवित करने का प्रयास सराहनीय है। श्री सिंह ने परी बाजार में लगे स्टाल में रखी सामग्री का अवलोकन किया और स्टॉल संचालकों से बात की।

इस अवसर पर परी बाजार से जुड़ी महिलाओं ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!