सिवनी 12 मई। जिले चिकित्सक एवं स्वास्थ्यकर्मी मानव सेवा के जज्बे, समर्पण भावना की नई इबारत लिख रहें हैं। कोविड संक्रमण की दूसरी लहर में जहाँ सम्पूर्ण देश-प्रदेश में तेजी से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ी हैं तथा चिकित्सालयों में उनकी क्षमता से कई गुना मरीजों उपचार हेतु पहुँचे है। ऐसे कठिन समय में चिकित्सकों व पैरामेडिकल स्टाफ का सेवा भाव, समर्पण, कर्तव्यनिष्ठा व कठिन परिस्थितियों से जूझने की जीजिविषा देखी जा रही है। यह कोरोना वॉरियर स्वयं के संक्रमित होने के जोखिम के बाद भी दिन रात मरीजों की सेवा में लगकर उनके जीवन को बचा रहे हैं।

इन्हीं कोरोना योध्दाओं में से एक जिला चिकित्सालय की स्टॉफ नर्स मीनाक्षी सूर्यवंशी भी हैं, जो लगातार अपनी सेवायें कोविड वार्ड में देते हुए कोरोना मरीजों की देखभाल कर रहीं हैं। इन योद्धाओं द्वारा कोविड-19 के मरीजों की देखभाल एवं उपचार के दौरान अत्यंत जोखिम का सामना करना पड़ता है फिर भी मानव सेवा के जज्बे के साथ वह लगातार कोविड मरीजों की देख-रेख एवं उपचार के लिये निःस्वार्थ भाव से अपने कर्तव्यों का निर्वाह कर रही है। यह ड्यूटी के दौरान पॉजीटिव मरीजों की देखभाल करने के साथ ही मरीजों का मनोबल बढ़ाने का कार्य भी कर रही हैं।

हिन्दुस्थान संवाद