सिवनी, 18 फरवरी। गर्भवती महिलाओं को मजदूरी की हानि की आंशिक क्षतिपूर्ति के रूप में नकद प्रोत्साहन प्रदान करने के साथ ही गर्भवती महिलाओं एवं धात्री माताओं के स्वास्थ्य संबंधी व्यवहारों में सुधार लाने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना लागू की गई है। योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को स्वास्थ्य परीक्षण के लिये प्रति हितग्राही 100 रूपये अधिकतम परिवहन किराया स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिया जायेगा।
सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास विभाग सिवनी श्री मति लक्ष्मी धुर्वे ने गुरूवार को जानकारी देते हुए बताया कि मध्य प्रदेश शासन महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजनांतर्गत संस्थागत प्रसव बढ़ाने, मातृ मृत्यु दर, शिश मृत्यु दर कम करने के प्रयासों के लिये पंजीकृत प्रथम प्रसव वाली गर्भवती माताओं को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान अंतर्गत भारत सरकार से जारी दिशा-निर्देशों में प्रसव पूर्व जांच हेतु अधिकृत चिकित्सकों, संस्थाओं से प्रत्येक माह की 9 तारीख को निर्धारित स्वास्थ्य केन्द्र स्तर पर गर्भवती महिलाओं का स्वास्थ्य परीक्षण विशेषज्ञ द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण कराये जाने हेतु एक बार आने एवं जाने का वास्तविक किराया (अधिकतम राशि रू. 100 प्रति हितग्राही) राशि स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से दिनांक 01 जनवरी 2021 से दिया जायेगा। पात्र हितग्राहियों को स्वास्थ्य परीक्षण कराये जाने हेतु एक बार आने एवं जाने का वास्तविक किराया राशि स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से प्रदान किया जायेगा।


हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!