सिवनी 16 फरवरी। अपनी माटी कलाकृतियों के लिए प्रसिद्ध कुरई विकासखण्ड के ग्राम पचधार काकलेक्टर डॉ राहुल हरिदास फटिंग एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री पार्थ जैसवाल ने मंगलवार 16 फरवरी को निरीक्षण किया।

उन्होंने माटी कलाकार दुर्गेश कुमार से उनके द्वारा मिट्टी से बनाए जा रहे विभिन्न बर्तनों, सजावटी समानों के साथ ही दैनिक उपयोग में आने वाले वस्तुओं के संबंध में जानकारी प्राप्त की। दुर्गेश ने बताया कि उनके द्वारा मिट्टी से दैनिक रोजमर्रा के उपयोग के बर्तनों, खिलौने, साज-सज्जा के समान बनाए जाते हैं। जिसकी स्थानीय स्तर के साथ ही नागपुर, जबलपुर में विशेष मांग है। वहीं पेंच नेशनल पार्क में आने वाले सैलानियों के लिए भी आकर्षण का केन्द्र है। विदेशी सैलानी भी यहाँ पहुंच कर हमारे द्वारा बनाऐ गए बर्तनों, खिलौनों एवं साज-सज्जा के सामान खरीदते हैं।

वहीं अन्य कलाकार लक्ष्मीलाल ने कलेक्टर डॉ फटिंग एवं सीईओ श्री जैसवाल को इलेक्ट्रानिक चाक मशीन से कुछ ही मिनटों में सुंदर फूलदान एवं बॉटल बना कर दिखाई। कलेक्टर डॉ फटिंग ने निरीक्षण के दौरान उपस्थित आजीविका मिशन विभाग के अधिकारियों को ग्राम के प्रत्येक माटी कलाकार को पात्रतानुसार योजना से लाभांवित करने के साथ ही लगातार आवश्यक प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित कर  प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए।    

हिन्दुस्थान संवाद

error: Content is protected !!